प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना – Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana – PMMVY

PM Matru Vandana Yojana, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना – Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana – PMMVY, pm govt scheme, मोदी योजना, 5000 रू वाली योजना

मातृ वंदना योजना

PM Matru Vandana Yojana: भारत सरकार सभी लोगों के लिए समय-समय पर विभिन्‍न प्रकार की योजनाऐं चलाती रहती हैं। ऐसे में ही सरकार ने महिलाओं के लिए भी बहुत सी योजनाऐं चलाई हुई हैं जिसमें से एक योजना प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना हैं। इस स्‍कीम के तहत सरकार जच्‍चा बच्‍चा के पोषण के लिए और देखरेख के लिए लाभ उपलब्‍ध करवाती हैं। ताकि ऐसी महिलाओं को ज्‍यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़े और उनका अच्‍छी तरह से लालन-पालन हो सके। सरकार ने इसके लिए कुछ नियम बनाये जिसे आपको पूरा करना होता हैं। अगर आप इन सभी नियम और शर्तो को पूरा करते हो आप लाभान्वित हो सकते हों। सरकार द्वारा जो भी पैसा दिया जाता है उसमें कुछ किस्‍तें यानि यह रूपया किस्‍तों के रूप में दिया जाता हैं।

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को सरकार 5000 रूपये उनके बैंक खाते में देती हैं।

पीएम मातृ वंदना योजना क्‍या है? Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana

देश के अन्‍दर कुछ महिलाओं को उतना पोषण नहीं मिल पाता कि जितना उनको चाहिए होता हैं। बहुत सी महिलायें कामकाजी महिलायें होती हैं। इनमें से कुछ महिलायें तो मजदूरी करके या अन्‍य कोई काम करके अपना गुजारा चलाती हैं। बच्‍चा होने के बाद ऐसी महिलायें घर पर ही रह जाती हैं या अपने काम काज में लग जाती हैं। इन सभी को देखते हुये सरकार ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना नाम की योजना शुरू की हैं। जो महिलायें गरीब होती है या काम पर नहीं जा पाती तो पैसों के अभाव में वो अपना पोषण नहीं कर पाती। इससे बच्‍चे की सेहत पर और मां के सेहत पर यानि जच्‍चा और बच्‍चा दोनों की सेहत पर भी असर पड़ता हैं। इसलिए सरकार ऐसी महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत सरकार 5000 रूपये प्रोत्‍साहन राशि के रूप में देती हैं।

PM मातृ वंदना योजना
Matru Vandana Scheme

इस स्‍कीम के पीदे सरकार का कोई उद्देश्‍य भी हैं वो इस प्रकार हैं-

  • गर्भावस्‍था के दौरान कामकाजी महिलायें अपने काम पर नहीं जा पाती इसलिए सरकार क्षतिपूर्ति के लिए पैसे देती हैं।
  • दूसरा उद्देश्‍य यह है कि ऐसी महिलायें अपने घर पर आराम कर सके और सही तरह से पोषण पा सके।
  • इन महिलाओं को सरकार 5 हजार रूपये की प्रोत्‍साहन राशि देती हैं।
  • यह राशि सीधे महिला के बैंक खाते में दी जाती हैं।
  • गर्भवती एवं धात्री महिलाओं तथा उनके नन्‍हें नवजात शिशुओं के स्‍वास्‍थ्‍य एवं पेाषण की स्थिति में सुधार करने।
  • गर्भावस्‍था, सुरक्षित प्रसव और स्‍तनपान की अवधि के दौरान अच्‍छी तरह से देखरेख हो।

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana से उन सभी महिलाओं को सरकार द्वारा लाभ दिया जायेगा जो अपने गर्भावस्‍था के दौरान अपने काम काज पर नहीं जा पाती हैं। यह राशि कुछ किश्‍तों के रूप में दी महिला को दी जाती हैं।

PM मातृ वंदना योजना की शुरूआत कब हुई

PM Matru Vandana योजना की शुरू 31 नवम्‍बर 2016 को माननीय प्रधानमंत्री द्वारा की गई थी जिसका नाम प्रधानमंत्री मातृ वन्‍दना (PMMVY) योजना रखा गया। देश के सभी जिलों में 1 जनवरी 2017 से राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के प्रावधानानुसार लागू किया गया। इस योजना के द्वारा गर्भवती महिला को प्रसव के 150 दिनों के पहले से लेकर प्रसव होने के बाद तक सरकार द्वारा 5000 रूपये राशि सहायता के रूप में दी जाती हैं।

इसमें आप जननी सुरक्षा योजना को जोड़ दे तो उसका लाभ अलग होगा।

मातृ वंदना योजना के लाभ

महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृ वंदना येाजना के द्वारा सरकार द्वारा रूपयों के रूप में लाभ दिया जाता हैं।

  • लाभार्थी महिला को कुल 5000 की राशि दी जाती हैं।
  • 1000, 2000, 2000 तीन किश्‍त दी जाती हैं।
  • यह राशि लाभार्थी को बैंक अथवा डाकघर के माध्‍यम से सीधे खाते में दिया जाता हैं।
  • गर्भवती महिला को पोषण ठीक से हो सके।
  • जच्‍चा व बच्‍चा दोनों की सेहत ठीक रहे।
  • जननी सुरक्षा योजना के तहत भी आपको अलग से लाभ दिया जायेगा।

(PMMVY) प्रधानमंत्री मातृ वन्‍दना योजना लाभ लेने के लिए शर्त

PMMVY स्‍कीम का लाभ लेने के लिए सरकार ने कुछ नियम और शर्ते भी रखी हैं जो इन सभी शर्तो को पूरा करता हैं केवल उन्‍हीं महिलाओं को लाभ दिया जायेगा।

हम आपको टेबल बनाकर समझाने की कोशिश करते हैं।

किश्‍तों मेंशर्तेलाभ रूपये
प्रथम किश्‍तगर्भावस्‍था के पहले 150 दिनोंं के भीतर गर्भवती महिला का आंगनबाड़ी केन्‍द्र/स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र में पंजीकरण होने पर 1000/-
दूसरी किश्‍तगर्भावस्‍था के 6 महिने के अन्‍दर कम से कम एक एएनसी के बाद2000/-
तृतीय किश्‍तबच्‍चे के जन्‍म का पंजीकरण कराया गया हो।
रोगों से बच्‍चे के बचाव के लिए बच्‍चे को बी सी जी ओपीवी एवं पेन्‍टावेलेन्‍ट या उसके समकक्ष सभी टीके लगे हो।
2000/-
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

लाभ लेने के लिए पात्रता

सरकार की प्रधानमंत्री मातृ वन्‍दना योजना का लाभ लेने के लिए आपको पात्रता पर भी ध्‍यान देना होगा तभी आप इसके लिए हकदार होंगी।

  • वैसे तो सभी गर्भवती महिलायें योजना के लिए पात्र हैं।
  • सभी सरकारी नौकरी वाली महिलायें राज्‍य कर्मचारी/केन्‍द्र कर्मचारियों को लाभ नहीं दिया जायेगा।
  • सार्वजनिक क्षेत्रों के उपक्रमों के कर्मचारियों को भी इस योजना का लाभ देय नहीं होगा।
  • इन महिलाओं को अवकाश लेने का हक होता हैं।
  • सरकारी नौकरी वाली महिलाओं को अवकाश के दौरान भी इनको सैलेरी मिलती रहती हैं।
  • पहली बार शिशु के जन्‍म पर ही आपको लाभ दिया जायेगा।
  • महिला की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए यानि बालिग होनी चाहिए।

Documents पीएम मातृत्‍व वंदना योजना हेतु दस्‍तावेज PMMVY

योजना का लाभ लेने के लिए आपको इन महत्‍वपूर्ण दस्‍तावेजों की भी जरूरत होगी।

  • फार्म 1A आपको ठीक तरह से यानि पूरा फार्म जांचने के बाद जमा करवाना हैं।
  • जच्‍चा बच्‍चा कार्ड, जो क‍ि आपको आंगनबाडी द्वारा दिया जाता हैं।
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता अथवा डाकघर खाता दोनों में किसी एक में आपके पास खाता होना जरूरी हैं।
  • शिशु के जन्‍म के बाद वाला लाभ लेने के लिए आपको जन्‍मप्रमाण पत्र की फोटो कॉपी लगानी होगी।
  • अस्‍पताल द्वारा जारी किया गया दस्‍तावेज।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे करें

प्रधानमंत्री मातृ वन्‍दना योजना का लाभ लेने के लिए आपको PMMVY स्‍कीम के तहत पंजीकरण करवाना होगा। यह पंजीकरण आपको अपने नजदीक आंगनबाडी केन्‍द्रो पर करवा सकते हों। आंगनबाड़ी वाली कार्यकर्त्‍ता आपको सभी लाभ के बारे में बता देती हैं। लाभ लेने के लिए आपको Form 1A, Form 1B, Form 1C ये तीनों फार्म भी आपको प्रत्‍येक किश्‍त का लाभ लेने के लिए भरना होता हैं।

Form 1A, 1B और 1C आवेदन फार्म डाउनलोड़ करने के लिए यहां देखें

तो प्‍यारी बहनाे ओर माताओं आप इस तरीके से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ ले सकती हों। अगर आपको कुछ समझ नहीं आयें तो आप हमें कमेन्‍ट भी कर सकती हों हम उसे अगली पोस्‍ट में समझाने की कोशि‍श करेगें।

इस योजना की ज्‍यादा जानकारी के लिए आप सम्‍बन्धित विभाग में जाये या आंगनबाड़ी केन्द्रों पर जायें। अन्तिम फैसला PMMVY का ही होगा।

कन्‍या विवाह योजना मध्य प्रदेश 2022
प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना पूरी जानकारी
जनधन खाता कैसे खुलवाएं
सुमन योजना – सुरक्षित मातृत्व आसवासन सुमन योजना
बीसी सखी योजना उत्तर प्रदेश

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *