मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना – Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना – Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana – कृषक दुर्घटना बीमा योजना उत्तर प्रदेश – UP CM Scheme – Yogi Adityanath Yojana

सरकार किसानों को लेकर आये दिन बड़ी-बड़ी योजनाऐं चलाती हैं। ऐसे में योगी सरकार अब किसानों के लिए बड़ी योजना लाये हैं जिसका नाम मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना। कृषक कल्याण योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के लगभग 4 करोड़ किसानों काे मिलेगा। इस स्कीम से किसानों का 5 लाख रूपये लाभ मिलेगा। दरअसल यह योजना एक तरह की बीमा योजना हैं। जिसमें किसानों की दुर्घटना होने पर सरकार उन्हें योजना के अन्तर्गत लाभ प्रदान करती हैं।

Mukhyamantri Krishak Durghatna Kalyan Yojana

कृषक कल्याण योजना का मैन उद्देश्य है किसानों की मदद करना। इस योजना से किसानों को बीमा की राशि प्रदान की जाती हैं। दरअसल किसान जब खेत में काम करते है या कोई मशीनीकरण के द्वारा काम करते समय दुर्घटना हो जाती हैं। जैसे उदाहरण के लिए मान जब किसान अपनी फसल की कटाई और छटाई करता है और उस फसल को जब थ्रेसर में कटाई के लिए लगाते है तो दुर्घटना हो जाती है।

ऐसे में ही और कारणों से दुर्घटना हो जाती है या आरा मशीनों में हाथ कटने से विकलांगता आ जाती हैं। कई बार जब किसान खेत में काम करते हैं तो वहां जानवरों का भी डर रहता है जैसे सांप, बिच्छु का और भी बहुत से कारण है जिससे किसानों की दुर्घटना हो सकती है या दुर्घटना के दौरान मृत्यु तक हो सकती हैं।

Krishak Durghatna Kalyan Yojana
कृषक कल्याण योजना उत्तर प्रदेश

इन सभी कारणों में ध्यान रखते हुऐं सरकार ने मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना शुरू की हैं। यह योजना मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना बीमा योजना के स्थान पर चलाई गई हैं। अगर देखा जाये तो उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना से बड़ी कोई योजना नहीं।

Krishak Durghatna Kalyan Yojana की पात्रता

  • समस्त खातेदार-सह खातेदार किसान जिनकी दुर्घटनावश मृत्यु हो जाती हैं।
  • ऐसे किसान जो  दुर्घटनावश दिव्यांग हो जाते हैं।
  • किसान के परिवार की आय का मुख्य स्त्रोत केवल कृषि करना और कृषि से की आय से अपनी जीविका चलाना।
  • भूमिहीन किसान जो पटटे से प्राप्त जमीन पर खेती करता हैं।
  • योजना का लाभ दुर्घटना होने की तिथि से लगाया जायेगा।
  • सरकार ने 18 वर्ष से 70 वर्ष के आयु के किसानों का प्रस्ताव रखा हैं।
  • किसान उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।

Krishak Durghatna के प्रकार

किसानों को लेकर सरकार ने बहुत सी दुर्घटनाओं को शमिल किया गया हैं। दरअसल दुर्घटना का कोई चेहरा नहीं होता। दुर्घटना किसी से कहकर नहीं आती है। जब आनी होती है तो कहीं पर भी और किसी भी रूप में आ जाती हैं।

जैसे आग लगना, अचानक बाढ़ का आना, कही से बिजी का गिरना, ट्रांसफर या बिजली के तारों से करंट का लगना, खेत में काम करते समय सांप के द्वारा काटना या फिर अन्य प्रकार के किसी भी जानवर द्वारा काटना, कुएं में डूबना या अन्य नदी, तालाब में दुर्घटनावश डूब जाना, पेड़ के गिरने से या पेड़ के नीचे दबने से दुर्घटना होना, यात्रा करते समय दुर्घटना हो जाना या फिर अन्य किसी कारण से किसान की अप्राकृतिक मृत्यु या विकलांगता पर किसानों के परिवार वालों को यह सहायता दी जायेगी।

Krishak Durghatna Kalyan Yojana के लाभ

मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना से किसानों को 5 लाख रूपये तक का लाभ दिया जाता हैं। किसान की दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है या विकलांगता आ जाती है तो सरकार द्वारा किसान के परिवार को सामाजिक सुरक्षा प्रदार करने के लिए इस योजना का लाभ दिया जाता हैं।

5 लाख रूपये की सहायता के प्रकार

  • अगर किसान की मृत्यु हो जाती है या किसान को शारीरिक अक्षमता हो जाती है तो 100 प्रतिशत लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • किसान का किसी कारणवश दोनों हाथ अथवा दोनों पैर या दोनों आंखे चले जाने पर भी किसान को 100 प्रतिशत यानि पूरा लाभ दिया जायेगा।
  • एक हाथ एक पैर कटने की स्थिति में भी पूरा लाभ दिया जायेगा।
  • अगर एक हाथ या एक पैर कटता है तो योजना का आधा लाभ मिलेगा।
  • शरीर में अगर 50 प्रतिशत दिव्यांगताआती है तो अनुदान भी 50 प्रतिशत ही दिया जायेगा।
  • अगर दिव्यांगता 25 प्रतिशत से ज्यादा और 50 प्रतिशत से कम है तो लाभ भी 25 प्रतिशत ही दिया जायेगा।

तो इस प्रकार आप मुख्‍यमंत्री द्वारा चलाई गई किसानों के कल्‍याण के लिए योजना का लाभ ले सकते हों। ज्‍यादा जानकारी के लिए सम्‍बन्धित विभाग में ही सम्‍पर्क करें।

यह भी पढ़े:-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *