किसानों को मिलेगें 7000 रूपये – Mera Pani Meri Virasat

Mera Pani Meri Virasat Haryana किसानों को मिलेगें 7000 रूपये – मेरा पानी मेरी विरासत योजना – किसानो को मिलेगे 7000रूपए, हरियाणा योजना

यह योजना हरियाणा सरकार द्वारा किसानो के लिए चलाई जा रही हैं। यह योजना हरियाणा सरकार द्वारा वहा कि किसानो के लिए चलाई गई हैं। जो किसान चावल की खेंती करते हैं उन्‍हें चावल की खेंती करने से रोकने के लिए सरकार इस योजना के तहत 7000 हजार रूपए की राशि प्रदान करेगी। इस योजना को चलाने का मुख्‍य उद्देश्‍य किसानो को चावल की खेंती करने से रोकना व उसके स्‍थान पर  अन्‍य फसल की पैदावार करवाने के लिए प्रोत्‍साहित करना हैं। यह 7000 हजार की राशि प्रति एकड के हिसाब से दी जाएगी।

Mera Pani Meri Virasat Haryana योजना के लाभ

इस योजना से राज्‍य सरकार को व किसानो दोनो की ही लाभ होगा।इसके लाभ व विशेषताओं को निम्‍नानुसार जानेगे:-

  • इस योजना को शुरू करने का मुख्‍य उद्देश्‍य जल संरक्षण करना हैं।
  • किसानो को धान की खेती करने से रोकना व उन्‍हें अन्‍य फसल पैदा करने के लिए प्रोत्‍साहित करना।
  • जो किसान इस योजना के अनुसार धान की खेती छोडकर अन्‍य फसल पैदा करता हैं।
  • उसे 7000 रूपए प्रति एकड के हिसाब से धन राशि प्रदान की जाएगी।
  • सरकार के अनुसार ऐसे किसान जो उस क्षेंत्र में आते हैं जहा भूजल की गहराई 35 मीटर से अधिक हैं।
  • उन्‍हें धान पैदा करने की अनु‍मति नही दी जाएगी।
  • इस योजना में जो प्रोत्‍साहन राशि दी जाएगी वो संबंधित पंचायत में ही दी जाएगी।
  • जो किसान उस क्षेत्र में रहते हैं जहा भूजल स्‍तर काफी कम हैं।
  • वो धान की फसल की जगह अन्‍य फसल पैदा करते हैं तो वो भी इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • हरियाणा सरकार द्वारा यह भी घोषणा  की है कि किसानो के लिए मक्‍का बुवाई के लिए आवश्‍यक उपकरणों की व्‍यवस्‍था सरकार करेगी।
  • धान की फसल के लिए अधिक पानी की आवश्‍यकता होती हैं इसलिए सरकार ऐसी फसलो को बोने के लिए प्रोत्‍साहित करना चाहती हैं जिनमें पानी की आवश्‍यकता कम होती हैं।
  • जो किसान अन्‍य फसल के साथ ड्रिप सिंचाई या अन्‍य किसी कम सिंचाई वाली प्रणाली को अपनाते हैं उन्‍हें 80% अनुदान दिया जाएगा।

इस प्रकार इसके अनेक लाभ व विशेषताए हैं।

लाभ लेने के लिए पात्रता व दस्‍तावेज

इसका लाभ लेने के लिए लाभार्थी को निर्धारित पात्रता व दस्‍तावेजो की आवश्‍यकता पडेंगी जो निम्‍न हैं:-

  • आवेदक हरियाणा का स्‍थायी निवासी होना चाहिए।
  • जो किसान पहले से ही धान की खेती करते हैं उन्‍हें अन्‍य फसल बोने पर इस योजना के लिए पात्र माना जाएगा।
  • भूजल स्‍तर जहां कम है उसके अलावा अन्‍य किसान भी धान की खेती कह जगह अन्‍य फसल को चुनते हैं तो वो भी इसके लिए पात्र हैं।

दस्‍तावेज

  • लाभार्थी का मूल निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • किसान क्रेडिट कार्ड

Mera Pani Meri Virasat Haryana Online Apply Process

इस याेजना की हरियाणा सरकार द्वारा अभी घोंषणा की गई हैं। इसके आवेदन अभी शुरू नही हुए हैं जल्‍द ही सरकार इसके आवेदन भरवाएगी।जैसे ही आवेदन मांगे जाएगे हम आपको इसकी आवेदन प्रक्रिया की पूरी जानकारी यहा उपलब्‍ध करवाएगे।इस योजना का मुख्‍य उद्देश्‍य लगातार घट रहे भूजल स्‍तर को रोकना हैं।

इसके तहत जल संरक्षण काे बढावा मिलेगा।

ज्‍यादा जानकारी के लिए अधिकारिक साइट पर जायें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *