e Nam Yojana Portal Registration Online – ई नाम योजना ऑनलाइन आवेदन

e Nam Yojana Portal Registration Online – ई नाम योजना ऑनलाइन आवेदन , राष्‍ट्रीय कृषि बाजार, क‍िसानों को होगा डबल फायदा, मोदी सरकार द्वारा शुरू क‍िसान योजना, मोदी सरकार की क‍िसान योजना, National Agriculture Market Yojana

E Nam Yojana: दोस्‍तोंं जैसा क‍ि आपको पता है क‍ि मोदी सरकार आये द‍िन कुछ ना कुछ योजनायें क‍िसान भाईयों को ल‍िऐ चलाती रहती है और देश के क‍िसानों को फायदा पहुचाती रहती है। आपको पता है क‍ि आये द‍िन कोई ना कोई क‍िसान भाई आत्‍म हत्‍या करता रहता है। सरकार का लक्ष्‍य है क‍ि क‍िसानों के ल‍िए बडी बडी योजनायें चलाये ज‍िससे क‍िसान भाई अपना गुजारा चला सके। मोदी सरकार ने ऐसे पिछले साल भी एक योजना चलाई थी जिसका नाम प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना था। इस योजना में किसानों सालाना 6000 रूपये की आर्थिक मदद की जाती है जो कि बैंक अकाउंट में की जाती हैं।

तो अब जान लेते है ई नाम योजना क्‍या हैं और इसके क्‍या लाभ हैं।

Highlights of E-Nam Yojana

योजना का नामई नाम योजना (E-Nam Yojana)
योजना का पूरा नामराष्‍ट्रीय कृषि बाजार योजना (National Agriculture Market Yojana)
लाभार्थीदेश के किसान
लाभघर बैठे देश की किसी भी मंडी में अपनी फसल को बेचना
e Nam Scheme Launch Date14 April 2016
ऑफिशियल साइटhttps://enam.gov.in
E Nam Yojana
kisan Update

E-NAM राष्‍ट्रीय कृषि बाजार योजना

नरेन्‍द्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) ने क‍िसानों की आमदनी दोगुनी करने के ल‍िए शुरू की ऑनलाइन मंडी ह‍िट हो गई है। सरकार की ओर से जारी आंकडो के मुताब‍िक, अभी तक देश के करीब पौने दो करोड यानि 1.65 करोड क‍िसान इस मंडी से जुड चुके है। इसका नाम राष्‍ट्रीय कृषि बाजार योजना (E-NAM) है। आपको बता दे क‍ि साल 2017 तक ई-मंडी से स‍िर्फ 17 हजार क‍िसान ही जुडे थे। ई-नाम एक इलेक्‍ट्रॉनिक कृषि पोर्टल है। जो पूरे भारत में मौजूद एग्री प्रोडक्‍ट माकेर्टिंग कमेटी को एक नेटवर्क में जोडने का काम करती है। इसका मकसद एग्रीकल्‍चर प्रोडक्‍ट के ल‍िए राष्‍ट्रीय स्‍तर पर एक बाजार उपलब्‍ध करवाना है। इससे फायदे को देखते हुए क‍िसान तेजी से इसके साथ जुड रहे है।

नई किसान योजना E nam yojana

नेशनल एग्रीकल्‍चर मार्केट के जरिए कृषि उत्‍पादों का अधिक दाम म‍िलेगा तो 2022 तक क‍िसानों की आमदनी दोगुनी भी हो जायेगी। अगर गोरखपुर का कोई क‍िसान अपनी उपज ब‍िहार मे बेचना चाहता है तो कृषि उपज को लाने-ले जाने और मार्केटिंग करना आसान हो गया है, मतलब साफ है क‍ि क‍िसन और खरीददार के बीच से ई-नाम ने दलाल खत्‍म कर द‍िए है, इसका लाभ न स‍िर्फ क‍िसानों बल्कि ग्राहकों को भी म‍िलेगा, क‍िसान और व्‍यापारियों के बीच के इस कारोबार में स्‍थानीय कृषि उपज मण्‍डी के ह‍ित को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा। क्‍योंकि पूरा व्‍यापार उसके माध्‍यम से ही होगा।

इंटरनेट से जोडी गई है देश की 585 मंडिया

ई-नाम के तहत देश के विभिन्‍न राज्‍यों में स्थित कृषि उपज मंदी को इंटरनेट के जरिए जोडा गया है। इसका टारगेट यह है क‍ि पूरा देश एक मंडी क्षेत्र बने। अगर मध्‍यप्रदेश का कोई क‍िसान अपनी उपज ब‍िहार या अन्‍य राज्‍य में बेचना चाहता है तो कृषि उपज को लाने ले जाने और मार्केटिंग करना आसान हो गया है। क‍िसान को इस टेंशन से म‍िल रही है छुटटी – बाजार और उत्‍पाद का अच्‍छा दाम म‍िलना क‍िसानों की सबसे बडी समस्‍या है, क‍िसान बडी हसरत से अपने खेत में बुआई करता है, फसल तैयार करना है, महिना बाद जब फसल तैयार हो जाती है तो उसे बाजार का संकट होने लगता है, वह फसल काट कर मंडी ले जाता है, और वहां जब उसका औना-पौना दाम लगता है तो वो परेशान हो उठता है

चलो यह भी जान लेते हैं आखिर क्‍या है ई नाम योजना

ई नाम योजना क्‍या हैं

क्‍या है E-NAM: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने क‍िसानों के इस सबसे बडे दर्द को समझा और फसलों की ऑनलाइन ब‍िकवाली के ल‍िए देश भर में कृषि बाजार (ई-मंडी) खोल दी। इसका मतलब है राष्‍ट्रीय कृषि बाजार।

  • इसकी शुरूआत 14 अप्रैल 2016 को की गई थी, इसके तहत रजिस्‍टर्ड होकर क‍िसान अपनी उपज अच्‍छी कीमत पर कहीं भी बेच सकते है।
  • अब वे ब‍िचौलियों और आढतियोंं पर न‍िर्भर नहीं है।
  • सरकार ने अब तक देश की 585 मंडियों को ई-नाम के तहत जोडा है।
  • केन्‍द्रीय कृषि मंत्रालय के तहत काम करने वाला लघु कृषक कृषि व्‍यापार संघ (SFSC) ई-नाम को लागू करने वाली सबसे बडी संस्‍था है।
  • सरकार की योजना इस साल 200 एवं अगले साल 215 और मंडियों को इससे जोडने की है।
  • देशभर में करीब 2700 कृषि उपज मंडियां और 4000 उप-बाजार है।
  • पहले कृषि उपज मंडी समितियों के भीतर या एक ही राज्‍य की दो मंडियेां में करोबार होता था।
  • हाल ही में पहली बार दो राज्‍यों की अलग-अलग मंडियों के बीच ई-नाम से व्‍यापार क‍िया गया।

E Nam Mandi List/Mapping of eNAM Mandis with Aspirational Disctricts

S.NoStatesDistrictMandis
1ANDHRA PRADESHVIZIANAGARAMBOBBILI APMC
2ANDHRA PRADESHVIZIANAGARAMVIZIANAGARAM APMC
3ANDHRA PRADESHYSR KADAPAKADAPA
4BIHARARARIAFORBESGANJ
5BIHARAURANGABADDAUDNAGAR
6BIHARBEGUSARAIBEGUSARAI
7BIHARGAYAGAYA
8BIHARKATIHARKATIHAR
9BIHARMUZAFFARPURMUZAFFARPUR
10BIHARPURNIAGULABBAGH
11BIHARSITAMARHISITAMARHI
12CHHATTISGARHBASTARJAGDALPUR
13CHHATTISGARHRAJNANDGAONRAJNANDGAON
14GUJARATDAHODDAHOD
15GUJARATDAHODDEVGADHBARIA APMC
16GUJARATDAHODFATEHPURA APMC
17GUJARATDAHODJHALOD
18GUJARATDAHODLIMKHEDA APMC
19GUJARATDAHODSANJELI APMC
20GUJARATNARMADADEDIYAPADA APMC
21GUJARATNARMADARAJPIPLA APMC
22GUJARATNARMADASELEMBA APMC
23GUJARATNARMADATILAKWADA APMC
24HARYANAMEWAT (NUH)FEROZPUR JHIRKA APMC
25HARYANAMEWAT (NUH)NUH APMC
26HARYANAMEWAT (NUH)PUNHANA APMC
27HARYANAMEWAT (NUH)TAURU APMC
28HIMACHAL PRADESHCHAMBACHAMBA
29JHARKHANDBOKAROBOKARO
30JHARKHANDDUMKADUMKA
31JHARKHANDEAST SINGHBHUMCHAKULIA
32JHARKHANDEAST SINGHBHUMJAMSHEDPUR
33JHARKHANDGARHWAGARHWA
34JHARKHANDGIRIDIHGIRIDIH
35JHARKHANDGUMLAGUMLA
36JHARKHANDHAZARIBAGHHAZARIBAGH
37JHARKHANDLOHARDAGALOHARDAGA
38JHARKHANDPAKURPAKUR
39JHARKHANDPALAMUDALTENGANJ
40JHARKHANDRAMGARHRAMGARH
41JHARKHANDRANCHIPANDRA RANCHI
42JHARKHANDSAHEBGANJSAHEBGANJ
43JHARKHANDSIMDEGASIMDEGA
44JHARKHANDWEST SINGHBHUMCHAIBASA
45KERALAWAYANADARWM SULTAN BARTHERY
46MADHYA PRADESHBARWANIBARWANI
47MADHYA PRADESHBARWANIKRISHI UPAJ MANDI SAMITI-ANJAD
48MADHYA PRADESHBARWANISENDHWA
49MADHYA PRADESHCHHATARPURBADA MALHERA
50MADHYA PRADESHCHHATARPURCHHATARPUR
51MADHYA PRADESHCHHATARPURHARPALPUR
52MADHYA PRADESHCHHATARPURLAVKUSHNAGAR
53MADHYA PRADESHCHHATARPURRAJNAGAR
54MADHYA PRADESHDAMOHDAMOH
55MADHYA PRADESHDAMOHJABERA
56MADHYA PRADESHDAMOHPATHARIA
57MADHYA PRADESHGUNAARON
58MADHYA PRADESHGUNAGUNA
59MADHYA PRADESHGUNAKRISHI UPAJ MANDI SAMITI-KUMBHRAJ
60MADHYA PRADESHKHANDWAHARSUD
61MADHYA PRADESHKHANDWAKHANDWA
62MADHYA PRADESHRAJGARHBIAORA
63MADHYA PRADESHRAJGARHKURAWAR
64MADHYA PRADESHRAJGARHNARSINGHGARH
65MADHYA PRADESHRAJGARHPACHORE
66MADHYA PRADESHSINGRAULIKRISHI UPAJ MANDI SAMITI-SINGRAULI
67MADHYA PRADESHVIDISHAGANJ BASODA
68MADHYA PRADESHVIDISHASIRONJ
69MADHYA PRADESHVIDISHAVIDISHA

ई नाम योजना मंडी लिस्ट

S.NoStatesDistrictMandis
70MAHARASHTRAGADCHIROLIAHERI
71MAHARASHTRAGADCHIROLICHAMORSHI
72MAHARASHTRANANDURBARNANDURBAR
73MAHARASHTRANANDURBARSHAHADA
74MAHARASHTRAOSMANABADKALAMB
75MAHARASHTRAOSMANABADMURUM
76MAHARASHTRAWASHIMKARANJA
77MAHARASHTRAWASHIMMANGRULPEER
78MAHARASHTRAWASHIMMANORA
79MAHARASHTRAWASHIMRISOD
80MAHARASHTRAWASHIMWASHIM
81ODISHABALANGIRKANTABANJI
82ODISHADHENKANALDHENKANAL
83ODISHADHENKANALHINDOL
84ODISHADHENKANALKAMAKHYANAGAR
85ODISHAGAJAPATIPARALAKHEMUNDI
86ODISHAKALAHANDIBHAWANIPATNA
87ODISHAKALAHANDIKESINGA
88ODISHAKANDHAMALKANDHAMAL
89ODISHAKANDHAMALTIKABALI
90ODISHAKORAPUTJEYPORE
91ODISHAKORAPUTKORAPUT
92ODISHAMALKANGIRIMALKANGIRI
93ODISHANABARANGAPURNABARANGAPUR
94ODISHARAYAGADAGUNUPUR
95ODISHARAYAGADARAYAGADA
96PUNJABFEROZEPURFEROZEPUR CITY APMC
97PUNJABFEROZEPURFEROZEPUR CANTT
98PUNJABFEROZEPURGURUHARSAHAI
99PUNJABFEROZEPURMAKHU
100PUNJABFEROZEPURTALWANDI BHAI
101PUNJABMOGAMOGA APMC
102RAJASTHANBARANANTA
103RAJASTHANBARANATRU
104RAJASTHANBARANBARAN
105RAJASTHANBARANCHABRA
106RAJASTHANDHOLPURDHOLPUR
107RAJASTHANJAISALMERJAISALMER
108RAJASTHANKARAULIHINDOUN
109RAJASTHANSIROHIAABU ROAD
110TAMIL NADURAMANATHAPURAMKAMUTHI
111TAMIL NADURAMANATHAPURAMMUDHUKALATHUR
112TAMIL NADURAMANATHAPURAMPARAMAKUDI
113TAMIL NADURAMANATHAPURAMRAJASINGAMANGALAM
114TAMIL NADURAMANATHAPURAMRAMANATHAPURAM
115TAMIL NADURAMANATHAPURAMTHIRUVADANAI
116TAMIL NADUVIRUDHUNAGARRAJAPALAYAM
117TAMIL NADUVIRUDHUNAGARVIRUDHUNAGAR
118TRIPURADHALAIKULAI
119UTTAR PRADESHBAHRAICHBAHRAICH
120UTTAR PRADESHBAHRAICHNANPARA
121UTTAR PRADESHBALRAMPURBALRAMPUR APMC
122UTTAR PRADESHBALRAMPURTULSIPUR APMC
123UTTAR PRADESHCHANDAULICHANDAULI
124UTTAR PRADESHCHITRAKOOTKARWI APMC
125UTTAR PRADESHFATEHPURBINDKI
126UTTAR PRADESHFATEHPURFATEHPUR APMC
127UTTAR PRADESHSIDDHARTH NAGARNAUGARH APMC
128UTTAR PRADESHSIDDHARTH NAGARSAHIYAPUR
129UTTAR PRADESHSONBHADRAROBERTSGANJ
130UTTARAKHANDHARIDWARHARIDWAR
131UTTARAKHANDHARIDWARROORKEE
132UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARBAZPUR
133UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARGADARPUR
134UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARJASPUR
135UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARKASHIPUR
136UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARKHATIMA
137UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARKICHHA
138UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARNANAKMATTA
139UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARRUDRAPUR
140UTTARAKHANDUDHAM SINGH NAGARSITARGANJ

e Nam Yojana Price List

प्यारे किसान भाइयों सरकार ने ई नाम योजना के आने वाली ऑनलाइन मण्डियों में बिकने वाली फसलों की रेट लिस्ट भी बनाई हुई हैं आप यहां अपने अनुसार अपनी जिस फसल को बेचना हैं और कौनसे राज्य के कौनसे जिले में बेचना हैं उन सभी Price List दी हुई हैं। ई नाम योजना की रेट लिस्ट देखने के लिए सबसे पहले आपको ऑफिशियल साइट पर जाना हैं।

  • साइट पर जाने के बाद आपको यहां कुछ ऑप्शन दिखाई देगें।
  • जिसमें से सबसे पहले आपको अपना राज्य सलेक्ट करना हैं।
  • उसके बाद आपको अपना जिला (APMC) सलेक्ट करना हैं।
  • अब आपको अपनी फसल को चुनना हैं जिसे आप बेचना चाहते हैं।
  • अब आपको तारीख सलेक्ट करनी हैं।
  • लॉस्ट में आपको Refresh पर क्लिक करना हैं।
  • अब आपके सामने सभी मण्डियाें की सूची आ जायेगी और रेट लिस्ट भी आ जायेगी।

E-NAM के साथ कैसे जुडे – E Nam Portal Registration

इस योजना से जुडने के ल‍िए आपको ज्‍यादा कुछ नहीं करना है बस क‍िसान को मोबाइल फोन चलाना आना चाहिए। हम जानते है क‍ि बहुत से क‍िसान भाईयो को मोबाइल चलाना नहीं आता है तो आप अपने घर में कोई समझदार व्‍यक्ति से भी ये काम करवा सकते हो, सबसे पहले आपको सरकार की ओर से जारी की गई ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद रजिस्‍ट्रेशन करना होगा, वहां क‍िसान (Farmer) का ऑप्‍शन द‍िखाई देगा, बस आप अपनी ई-मेल आईडी डाल कर अपना पासवर्ड जनरेट कर लेना पासवर्ड आपके मोबाइल पर चला जायेगा और फ‍िर आप लॉगइन करके आपना करोबार शुरू कर सकते हो।

ज्‍यादा जानकारी के लिए सम्‍बन्धित विभाग की साइट पर जायें या सम्‍बन्धित विभाग में सम्‍पर्क करें।

e Nam App Download

प्यारे किसान भाइयों आप सरकार द्वारा चलाई गई ई नाम योजना (E-Name Yojana) में आप एप्प के द्वारा भी जुड सकते हों क्योंकि सरकार ने इसकी मोबाइल के App भी जारी कर दी हैं। अगर आप भी ई नाम एप्लीकेशन को डाउनलोड़ करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले प्ले स्टोर में जाना हैं वहां आपको E Nam सर्च करना हैं और फिर आपके सामने एप्प का नाम आ जायेगा आप इसे डाउनलोड़ कर सकते हों। E-Name App सीधे Download करने के लिए यहां क्लिक करें।

E-Nam Yojana Helpline Number/Toll Free Number

सरकार ने किसानों की सुविधा के लिए ई नाम योजना के हेल्पलाइन नम्बर और टोल फ्री नम्बर भी जारी किये हुये हैं आप इन नम्बरों पर भी कॉल करके योजना के बारे में जानकारी ले सकते हों।

  • e Nam Scheme Help Desk No. – 1800 270 0224
  • e Nam Yojana Email ID – nam@sfac.in, enam.helpdesk@gmail.com

यह भी पढ़े-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *