चिकित्‍सा सुविधा योजना – श्रमिको को मिलेगे 4000 रूपए

चिकित्‍सा सुविधा योजना – श्रमिको को मिलेगे 4000 रूपए, चिकित्‍सा सुविधा योजना के लिए ऐसे करे आवेदन, पंजीकृत श्रमिको को मिलेगा लाभ

श्रमिको को मिलेगे 4000 रूपए

सभी क्षेंत्र में सरकार अनेक योजनाए चलाती हैं। जिसके माध्‍यम से लाभार्थी को लाभ प्रदान किया जाता हैं। ऐसे ही यह योजना श्रमिको को स्‍वास्‍थ्‍य के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए चलाई गई हैं। श्रमिक गरीब वर्ग में आते हैं जो कि मजदूरी करके अपना पेट भरते हैं। अपने परिवार के पालन पोषण के लिए वो प्रतिदिन मजदूरी की तलाश में रहते हैं। ऐसे में यदि उन्‍हें कार्य स्‍थल पर कोई चोट लग जाए या उनका स्‍वास्‍थ्‍य खराब हो जाता हैं तो उन्‍हें मजदूरी करने में दिक्‍कत होती हैं। ऐसी परेशानियों से निपटने के लिए उत्‍तरप्रदेंश सरकार ने अपने राज्‍य के श्रमिको के लिए ”चिकित्‍सा सुविधा योजना” की शुरूआत की हैं। इस योजना का लाभ श्रमिक परिवार को दिया जाएगा।

इस योजना का लाभ लेने के लिए क्‍या करना हैं व इसके तहत कितना लाभ मिलता हैं ये सब हम इस आर्टिकल में जानेगे।

लाभ लेने के लिए श्रमिको से मांगे आधार नंबर

देंश में मजदूरो की बहुत बडी संख्‍या निवास करती हैं। इन सभी पंजीकृत श्रमिको के लिए सरकार ने अनेक योजनाए चलाई हुई हैं। जिनके तहत इन श्रमिको को लाभ दिया जाता हैं। चिकित्‍सा सुविधा योजना के माध्‍यम से श्रमिकाे को धनराशि प्रदान की जाती हैं। 18 – 60 वर्ष के व्‍यक्ति इस योजना के लिए पंजीकरण कर लाभ ले सकते हैं। इस योजना के तहत मिलने वाली राशि को सर‍कार ने सीधे खाते में भेजने के लिए श्रमिको से उनके आधार कार्ड नंबर मांगे हैं। इसलिए श्रमिको को नया आवेदन कर उसके आधार कार्ड नंबर अपलोड करने होगे ताकि उन्‍हें इसका लाभ मिल सके।

चिकित्‍सा सुविधा योजना नया अपडेट

जैंसा कि आप सभी जानते हें कि पिछले लॉकडाउन में यूपी सरकार ने श्रमिको के लिए चिकित्‍सा सुविधा याेजना की शुरूआत की थी। उस समय इस योजना के तहत लाभार्थी श्रमिक को 3000 हजार रूपए की राशि प्रदान की जाती थी। लेकिन अब सरकार ने इस बार इस योजना के तहत मिलने वाली राशि में 1000 रूपए की बढोतरी करके 4000 रूपए कर दी हैं। यानि अब इस योजना के तहत श्रमिको को 3000 की जगह 4000 हजार रूपए की राशि प्रदान की जाएगी।

श्रमिको को मिलेगे 4000 रूपए

चिकित्‍सा सुविधा योजना उत्‍तरप्रदेंश सरकार द्वारा चलाई गई हैं। इसके तहत श्रमिक परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं। इस योजना के माध्‍यम से श्रमिक परिवार को एक मुश्‍त 3000 हजार रूपए की आर्थिक सहायता दी जाती हैं। इस सहायता का मुख्‍य उद्देंश्‍य श्रमिक परिवार की मदद करना हैं। क्‍योंकि कई बार श्रमिक काम करते समय बीमार हो जाता हैं या फिर काम करते समय चोट भी लग जाती हैं। तो उसके पास इतने रूपए नही होते की वह अपना ईलाज करा ले। या फिर वो समय पर ईलाज नही करा पाता हैं। जिससे वो मजदूरी भी नही कर पाता और अपने परिवार की जरूरतो को पूरा करने में असमर्थ रहता हैं। इस समस्‍या से बचने के लिए सरकार ने उनके लिए ”चिकित्‍सा सुविधा योजना” की शुरूआत की हैं।

चिकित्‍सा सुविधा योजना

जिसके तहत उस श्रमिक को 4000 रूपए की आर्थिक सहायता दी जाती हैं।

चिकित्‍सा सुविधा योजना के उद्देंश्‍य

  • इस योजना का मुख्‍य उद्देंश्‍य गरीब श्रमिको को आर्थिक सहायता प्रदान करना हैं।
  • इसके तहत एक लाभार्थी को एक वर्ष में 3000 रूपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती हैं।
  • श्रमिक अधिकतर गरीब वर्ग से ही होते हैं जो बेचारे अपना ईलाज भी सही ढंग से नही करा पाते हैं।
  • ऐसा इसलिए होता हैं क्‍योंकि श्रमिक बेचारे इतना ही कमा पाते हैं जिससे वो अपना घर का खर्चा भी मुश्किल से चला पाते हैं।
  • जब वो बीमार हो जाते हैं तो उनका काम पर जाना भी मुश्किल हो जाता हैं और वो अपना ईलाज भी नही करा पाते।
  • इस समस्‍या से निपटने के लिए सरकार पंजीकृत श्रमिको को वर्ष में 3000 रूपए की आर्थिक सहायता देती हैं।
  • ताकि वो समय पर अपना ईलाज करा सके।

श्रमिक के लिए श्रम विभाग ने इसके अलावा भी कई योजनाए चलाई हुई हैं जिनके तहत श्रमिको को लाभ दिया जाता हैं।

श्रम विभाग द्वारा चलाई गई योजनाए

श्रमिको को लाभ देने के लिए चिकित्‍सा सुविधा योजना के अलावा भी ओंर योजनाए हैं जो निम्‍नलिखित हैं:-

  • आवास सहायता योजना
  • शौंचालय सहायता/सुविधा योजना
  • आपदा राहत सहायता योजना
  • महात्‍मा गांधी पेंशन योजना
  • गंभीर बीमारी सहायता योजना
  • अंत्‍येष्टि सहायता योजना
  • कन्‍या विवाह अनुदान योजना
  • सौंर उर्जा सहायता योजना
  • पं. दीनदयाल उपाध्‍याय चेतना योजना
  • संत रविदास शिक्षा सहायता योजना
  • मातृत्‍व, शिशु व बालिका सहायता योजना
  • मेधावी छात्र पुरस्‍कार योजना
  • कौंशल विकास, तकनीकी उन्‍नयन व प्रमाणन योजना
  • आवासीय विद्यालय योजना

इन सभी योजनाओ के तहत श्रमिको को आर्थिक सहायता व लाभ प्रदान किया जाता हैं।

योजना का लाभ लेने के लिए पात्रता

  • आवेदन कर्ता पंजीकृत निमार्ण श्रमिक होना चाहिए।
  • चाहे वो नवीनतम हो या पूराना श्रमिक।
  • आवेदन कर्ता का स्‍वयं का राष्‍ट्रीयकृत बैंक के CBS शाखा में खाता होना चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक उत्‍तरप्रदेंश का निवासी होना चाहिए।

चिकित्‍सा सुविधा योजना में दिया जाने वाला लाभ

इस योजना के तहत पंजीकृत निर्माण श्रमिक के परिवार को ईकाई मानकर एकमुश्‍त राशि 3000 रूपए प्रदान की जाती हैं। 

यह राशि लाभार्थी को राष्‍ट्रीयकृत बैंक में भेजी जाती हैं। आवेदन कर्ता के परिवार में यदि दोनो पति व पत्‍नी निर्माण श्रमिक हैं तो योजना में मिलने वाली राशि पत्‍नी के खाते में भेजी जाएगी। यहा परिवार से आशय पति पत्‍नी व अविवाहित पुत्र व अविवाहित पुत्री से हैं। श्रमिक परिवार में जो अविवाहित हैं व उसके परिवार में माता पिता कोई नही हैं उन्‍हें इस योजना के तहत 2000 रूपए की राशि प्रदान की जाएगी।

चिकित्‍सा सुविधा योजना ऐसे करे ऑनलाइन आवेदन

यदि आप इस योजनाउ के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हें तो आपको इसकी अधिकारिक साइट पर जाना हैं।

  • अधिकारिक साइट पर जाने के लिए आप अधिकारिक साइट पर क्लिक करे
  • यहा क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेंज खुलेंगा। जैंसा कि नीचे ईमेंज में दिखाया गया हैं।
  • आपके सामने श्रमिक पंजीयन का फॉर्म खुलेंगा।
  • उसमें पूछी गई जानकारी आपको भरनी हैं। औंर आवेदन के option पर क्लिक करना हैं।
  • आपको यहा रजिस्‍ट्रेंशन के दौंरान लॉगिन पासवर्ड मिलते हैं। उस पासवर्ड से आपको लॉगिन करना हैं
  • अब एक औंर नया पेंज खुलेंगा जिसमें आपको ”कल्‍याणकारी योजनाए” पर क्लिक करना हैं।
  • फिर आपको ”योजना का लाभ लेने हेतू आवेदन पत्र” पर क्लिक करना हैं।
  • अब नया पेंज खुलेंगा जिसमें आपको ओटीपी भेजना हैं ओटीपी आपके द्वारा आवेदन फॉर्म में भरे गए नंबर भेजा जाएगा।
  • आगे भी आपके सामने नए पेंज खुलेंगे वहा भी आपको सभी जानकारी भरनी हैं।
  • इसी पेंज पर आपको योजना का नाम चुनना होगा आपको चिकित्‍सा सुविधा योजना को चुनना हैं।
  • इसमें वेरिफिकेशन के लिए किसी अध‍िकारी को चुनना.
  • इसकी फील्‍ड नीचे दिखेगी यहा पर आधार कार्ड में जो नाम दर्ज हैं श्रामिक को वही नाम लिखना होगा।
  • योजना का संक्षिप्‍त विवरण’ कॉलम में ‘चिकित्‍सा सुविधा योजना’ लिख सकते हैं.
  • आपको अपने आधार कार्ड व बैंक पासबुक की स्‍वप्रमाणित प्रतिलिपि अपलोड करनी हें।
  • इसमें फाइल का साइज 200 केबी से अधिक नही होना चाहिए।

श्रमिको को मिलेगे 4000 रूपए ऐसे करे आवेदन

इस योजना के तहत आवेदक को एक वर्ष में 3000 रूपए एकमुश्‍त दिए जाते हैं। इसके लिए आपको आवेदन करना होगा। आवेदन करने के लिए पंजीकृत निर्माण श्रमिको को श्रम विभाग के क्षेंत्रीय कार्यालय अथवा तहसील स्‍तर पर श्रम परिवर्तन अधिकार‍ी के कार्यालय में संलग्‍न प्रारूप में आवेदन करना होगा। आवेदन करते समय आपको निम्‍न अभिलेंख संलग्‍न करने होगे:-

  • राष्‍ट्रीयकृत बैंक पासबुक 
  • चालू स्थिति के मोबाईल नंबर
  • आधार कार्ड की स्‍वप्रमाणित फोटो कॉपी

आवेदन स्‍वीकृति करने की प्रक्रिया

  • प्राप्‍त आवेदनो की स्‍वीकृति अपने – अपने क्षेंत्रों में अपर /सहायक श्रमायुक्‍त तथा जनपदो के प्रभारी श्रम परवर्तन अधिकारी हैं,
  • वहा श्रम प्रवर्तन अधिकारी द्वारा की जाएगी।
  • जो भी आवेदन पत्र प्राप्‍त होगे उनकी 15 दिन के अन्‍दर स्‍वीकृति प्रदान की जाएगी।
  • स्‍वीकृति के 1 सप्‍ताह के बाद लाभार्थी के खाते में धनराशि भेजी जाएगी।
वृद्धावस्था पेंशन योजना लिस्‍ट उत्तर प्रदेश
विधवा पेंशन लिस्‍ट उत्तर प्रदेश
खादी ग्रामोद्योग रोजगार लोन योजना UP
श्रमिक कार्ड लिस्ट उत्तर प्रदेश
एक जनपद एक उत्‍पाद प्रशिक्षण एवं टूलकिट योजना
विकलांग पेंशन लिस्ट उत्तर प्रदेश
नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट यूपी
उत्तर प्रदेश शौचालय सूची में नाम कैसे देखें – शहरी व ग्रामीण शौचालय लिस्ट UP
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लिस्ट उत्तर प्रदेश
मुख्‍यमंत्री कन्‍या सुमंगला योजना

Leave a Comment

Your email address will not be published.